घटनाक्रम का विवरण

घटनाक्रम: राष्ट्रीय मतदाता दिवस
दिनांक: 25-01-2017
विवरण:

राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष प्रांगण में आज 25 जनवरी को सातवे मतदता दिवस समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा मुख्य निर्वाचन आयुक्त के संदेश का वाचन किया गया। उसके पश्चात सभी मतदाताओं को शपथ ग्रहण करवाई। मतदाताओं ने लोकतान्त्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाये रखने, स्वतंत्र निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखते हुए निर्भिक होकर धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा तथा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग करने की शपथ ली।

इस अवसर में कलेक्टर श्री धनराजू एस ने भावी मतदाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि वोट देना कोई दान नहीं है, अपितु यह हमारा अधिकार हैं क्योंकि हम वोट देकर अपेक्षा रखते है कि हमारा प्रतिनिधि देश की प्रगति में योगदान देगा तथा समाज के विकास में भागी बनेगा। इसलिये वोट को मतदान न कहकर मताधिकार कहना उचित है। यह अधिकार हमारे संविधान में बिना किसी जाति, धर्म, सम्प्रदायिक भेदभाव के सभी को समान रूप से प्रदान किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मतदाता लोकतंत्र का पहरेदार है प्रत्येक मताधिकारी को अपनी चुनी गई प्रतिनिधि के कार्यों के प्रति जागरूक रहने की आवश्यकता है। हम सभी को निष्पक्ष, निर्भीक होकर मताधिकार का उपयोग करने की आवश्यकता है। इसके पश्चात कार्यक्रम में निर्वाचन क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाले बूथ लेवल अधिकारियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व मतदाता दिवस हेतु महाविद्यालय, विद्यालयों में आयोजित निबन्धकला, वादविवाद एवं चित्रकला प्रतियोगिता में  विद्यार्थियों को प्रशस्ति पत्र का वितरण मुख्य अतिथियों द्वारा दिया गया तथा भावी मतदाताओं को मतदाता पत्र प्रदान किये गये।

भावी मतदाताओं के लिये हुए क्वीज का आयोजन :-- इस अवसर पर स्कूली व  कॉलेज के भावी मतदाताओं के लिये मतदान से संबंधित क्वीज का आयोजन किया गया तथा सही जवाब देने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्कार वितरण कियेे गये। मतदान का प्रोत्साहन करने के लिये कार्यक्रम में सामाजिक न्याय विभाग द्वारा गीत व नगरपालिका परिषद सिवनी में पदस्थ सहायक यंत्री श्री ललितधर द्विवेदी द्वारा मतदान करना चाहिये कविता सुनाई गई।

DSC_0251 DSC_0242
ऑफिसर: श्री गोपाल चंद्र डाड